Money Problems

कुंडली का द्वितीय भाव धन भाव है. धन की स्थिति के लिये धनभाव, षष्टम भाव, एकादश भाव और भाग्येश का विश्लेषण किया जाता है. साथ ही इंदु लग्न भी इस बारे में सटीक जानकारी देता है. धन संकट, धनोपार्जन में अवरोध, अत्यधिक व्यय, धन का वापिस ना मिलना आदि स्थितियों का निदान व्यक्ति को एक ऐसा जीवन दे देता है जिसका वो सपना देखता है. कुछ ऐसे उपाय एवं निर्देश हैं जिनके द्वारा व्यक्ति अपनी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ कर सकता है और आर्थिक संकट अथवा हानि से स्वयं को बचा सकता है.

Note : इस सेवा के लिए अधिकतम दो दिन का समय लगेगा.

Second house of birth chart is the house of money. Analysis of second, sixth, eleventh house and lord of ninth house is required to understand the situation of money in one's life. Indu lagna also gives accurate information. Resolution to the problems related to money crisis, disruptions in revenue, excessive expenditure, getting back the money is very important. Astrology have some remedies and instructions that helps to reinforce financial situation and saves the native from the money crisis or loss.

Note : This service will take maximum two days.